AANHPI के लिए बाइडन के एडवाइजरी कमिशन में शामिल किए जाएंगे 23 भारतीय अमेरिकी नेता

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने सोमवार को एलान किया कि उनके एडवाइजरी कमिशन में चार भारतीय अमेरिकियों अजय जैन भूटोरिया (Ajay Bhutoria), कमल कलसी (Kamal Kalsi), सोनल शाह (Sonal Shah) और स्मिता शाह (Smita Shah) को शामिल किया जाएगा। इस कमिशन में कुल 23 नेता हैं।  यह कमिशन एशियाई अमेरिकी, हवाई निवासी (Native Hawaiians) और पैसिफिक आइलैंड (AANHPI Community) के लोगों के लिए काम करेगा।

चारों नेताओं को अपने  क्षेत्र में हासिल है महारत

सिलिकान वैली (Silicon Valley) के टेक्नोलाजी एक्जीक्यूटीव, कम्युनिटी लीडर, स्पीकर अजय जैन भूटोरिया, बाइडन के राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के लिए चले अभियान के पहले दिन से ही उनके सबसे मजबूत समर्थकों में से एक हैं। AAPI व दक्षिण एशियाई समुदायों के लिए छोटे उद्योगों, शिक्षा क्षेत्र में मौके, इमिग्रेशन मामले, तकनीकी एडवांसेज आदि क्षेत्रों में वे एडवोकेट हैं। न्यू जर्सी (New Jersey) से इमरजेंसी मेडिसीन फिजिशियन कमल कलसी ने सेना के लिए 20 सालों तक काम किया। इसके लिए उन्हें ब्रोंज स्टार मेडल का सम्मान भी मिल चुका है। 

TAAF की अध्यक्ष हैं सोनल शाह

सोनल शाह एशियाई अमेरिकी फाउंडेशन (TAAF) की अध्यक्ष हैं। उन्होंने ही इस फाउंडेशन की स्थापना AANHPI समुदायों के लिए की थी। स्मिता एन शाह एक इंजीनियर, एंटरप्रेन्योर व शिकागो के SPAAN टेक की CEO हैं। उन्हें विमानन, ट्रांसपोर्टेशन समेत पब्लिक व प्राइवेट इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट में विशेषज्ञता प्राप्त है।

 

भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक देश की 32 करोड़ आबादी का डेढ़ फीसद भी नहीं हैं। इसके बावजूद इनकी गिनती अमेरिका के सफल और कामयाब समुदायों में होता है। साल 2015 में औसत आय एक लाख डालर प्रति व्यक्ति थी जो राष्ट्रीय औसत का दोगुने से थोड़ा कम है।

Related Articles

Back to top button