दिल्ली-एनसीआर में जारी है ठंड का सितम, मौसम विज्ञानी ने बताया कब मिलेगा शीत लहर से छुटकारा

दिल्ली-एनसीआर में ठंड का सितम जारी है। बीते दो दिनों से इसमें और भी इजाफा हो गया है। फिलहाल अभी इस ठंड से अगले कुछ और दिनों तक राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। मौसम विज्ञान विभाग के विज्ञानी देश के मौजूदा मौसम के हालात पर नजर बनाए हुए हैं। मौसम विज्ञानी असीम कुमार मित्रा ने बताया कि अभी फिलहाल अगले 48 घंटे तक इस हांड कांपने वाली ठंड से राहत मिलने के आसार नहीं है। ये ठंड और शीत लहर ऐसे ही जारी रहेगी, इसी के साथ देश के कुछ राज्यों में बरसात भी होनी है।

उन्होंने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ अब अपनी दिशा तय करके दक्षिण की ओर बढ़ रहा है। ऐसे में दूसरे राज्यों में इसका असर देखने को मिलेगा। मौसम विभाग की वेबसाइट के अनुसार इस साल जनवरी में बारिश में भी बीते 122 सालों का रिकार्ड तोड़ दिया है। 1901 से 2022 के बीच अभी तक आल टाइम रिकार्ड बारिश जनवरी 1989 के नाम था, उस समय 79.7 मिमी बारिश हुई थी। मगर इस साल 23 जनवरी तक ही 88.2 मिमी बारिश हो चुकी है।

इसमें पिछले सारे रिकार्ड तोड़कर एक नया ही कीर्तिमान कायम कर दिया है। इससे पहले शनिवार को इस सीजन का सबसे ठंडा दिन रिकार्ड किया गया था। उस समय तापमान 14.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया था। इससे एक कदम आगे बढ़ते हुए मंगलवार को इसमें और भी कमी दर्ज की गई। मंगलवार को दिल्ली में आज सीजन की सर्वाधिक ठंड रही। ढाई बजे अधिकतम तापमान दर्ज किया गया 13 डिग्री सेल्सियस। यह सामान्य से भी नौ डिग्री सेल्सियस कम रहा।

मौसम विज्ञानी असीम मित्रा ने बताया कि देश के कई राज्यों के न्यूमतम तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई। दिल्ली से सटे हरियाणा, उत्तर प्रदेश के इलाकों में भी तापमान कम रहा। उन्होंने बताया कि अभी अगले दो दिन शीत दिवस और अगले चार दिन शीत लहर की स्थिति देखने को मिल सकती है।

Related Articles

Back to top button