जहरीली शराब से हुई एक दर्जन मौतों के मामले में अब शराब माफिया के खिलाफ कार्रवाई में जुटी पुलिस प्रशासन

जहरीली शराब से हुई एक दर्जन मौतों के मामले में पुलिस प्रशासन अब शराब माफिया के खिलाफ कार्रवाई में जुट गया है। सेल्समैन रामप्रताप जेल भेजने के बाद रविवार को पहाड़पुर स्थित धीरेंद्र सिंह के शराब की दुकान पर प्रशासन का बुलडोजर भी चल गया। यही नहीं शराब माफिया केतन सिंह उर्फ कुंवर प्रवीण सिंह के घर पर भी बुलडोजर चलाने के मूड में है। कुछ ही देर बाद यहां भी कार्रवाई हो सकती है। जिसको लेकर घटना से जुड़े आरोपित सकते में हैं।

मंगलवार को पहाड़पुर गांव व आसपास के गांव में जहरीली शराब से कुल 12 मौतें हो गई थीं। जबकि 36 से अधिक अधिक लोग गंभीर हैं। जिनका इलाज जिला अस्पताल व केजीएमयू और एसजीपीजीआइ लखनऊ में चल रहा है। आइजी लक्ष्मी सिंह व मंडला आयुक्त रंजन कुमार लगातार घटना की मानिटरिंग कर रहे हैं। घटना में पहाड़पुर के ठेके सेल्समेन राम प्रताप को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। ठेकेदार धीरेंद्र सिंह भी पुलिस हिरासत में है। घटना के पीछे पिंडारी खुर्द के प्रधान केतन सिंह उर्फ कुमार प्रवीण सिंह का भी हाथ बताया जा रहा है। शनिवार से ही पुलिस प्रशासन केतन सिंह समेत अन्य लोगों पर बड़ी कार्यवाही का मूड बनाए हुए है। शनिवार देर शाम जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव व पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार भारी मात्रा में पुलिस बल लेकर केतन सिंह के दरवाजे पहुंचे थे। वहां जेसीबी भी बुलाई गई कुछ कारणों से पुलिस प्रशासन बिना कार्रवाई किए ही वापस आ गया था। क्षेत्राधिकारी राम किशोर सिंह ने बताया कि शराब कांड से जुड़े लोगों पर बड़ी कार्रवाई की जा रही है। अभी यह जारी रहेगी।

Related Articles

Back to top button