अफगानिस्तान के ट्रापिकल प्रांतों के विश्वविद्यालयों को फिर से खोलेगा तालिबान

तालिबान ने रविवार को कहा कि वह सभी उष्णकटिबंधीय प्रांतों में विश्वविद्यालयों को 2 फरवरी से फिर से खोलेगा। खामा प्रेस ने बताया कि अफगानिस्तान के इस्लामिक अमीरात के उच्च शिक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि छात्रों को अपना अंतिम सेमेस्टर पूरा करने के लिए तीन हफ्तों का समय दिया जाएगा और उन प्रांतों में नया शैक्षणिक वर्ष अप्रैल के अंत में शुरू होगा।

पिछले 6 महीनों से बंद सार्वजनिक विश्वविद्यालय

मंत्रालय ने आगे ठंडे क्षेत्रों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि ठंडे प्रांतों में भी छात्रों को अपने अंतिम सेमेस्टर को पूरा करने के लिए तीन हफ्तों का समय दिया जाएगा और फिर नया शैक्षणिक वर्ष अप्रैल में शुरू होगा। इससे पहले तालिबान ने एक बयान में कहा था कि वह लड़कियों और लड़कों दोनों के लिए स्कूलों और विश्वविद्यालयों को मार्च 2022 में खोलेगा। द खामा प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार लगभग पिछले छह महीनों से पूरे अफगानिस्तान में 150 सार्वजनिक विश्वविद्यालय बंद कर दिए गए हैं। अगस्त 2021 के मध्य में अफगानिस्तान पर तालिबान का कब्जा करने के बाद से 40 निजी विश्वविद्यालयों में लड़के और लड़कियां पढ़ रहे हैं।

7वीं के बाद लड़कियों के स्कूल खोलने की मांग

इसके साथ ही पब्लिक स्कूलों में लड़कियों को केवल छठी कक्षा तक की कक्षाओं में जाने की अनुमति है। अगस्त के मध्य में तालिबान के अधिग्रहण के बाद से अफगानिस्तान के अधिकांश हिस्सों में लड़कियों को 7वीं कक्षा के बाद वापस स्कूल जाने की अनुमति नहीं दी गई है। लड़कियों के स्कूलों के बंद होने पर देश के साथ-साथ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में भी तीखी प्रतिक्रिया हुई है। इस बीच स्कूल से बाहर रहने वाली कई छात्राओं ने कहा कि इस्लामिक अमीरात को अपना वादा निभाना चाहिए और नए साल में स्कूलों को फिर से खोलना चाहिए। आपको बता दें कि तालिबान अंतरराष्ट्रीय मानयता प्राप्त करने के लिए बेताब है, लेकिन इसके लिए वर्तमान अफगान सरकार को मानवाधिकारों, महिलाओं के अधिकारों और एक समावेशी सरकार का गठन करने की आवश्यकता है।

Related Articles

Back to top button