गोरखपुर में अब रामगढ़ताल व नौसढ़ से सहजनवा रूट पर भी चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें….

महानगर में चल रहीं इलेक्ट्रिक बसों के बेड़े में और पांच बसें शामिल होंगी। फरवरी में ही यह बसें गोरखपुर पहुंच जाएंगी। रामगढ़ताल व नौसढ़ से सहजनवा रूट पर जल्द ही इन बसों का संचालन शुरू हो जाएगा। इलेक्ट्रिक बस बसों को संचालित करने वाली संस्थाओं ने प्रक्रिया शुरू कर दी है।

अभी इन रूटों पर चल रही हैं बसें

इलेक्ट्रो मोबिलिटी सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड के साइट इंचार्ज पवन कुमार के अनुसार वर्तमान में महेसरा से नौसड़, मेडिकल कालेज से मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय और मोहरीपुर से एयरपोर्ट सहित कुल तीन रूटों पर 15 इलेक्ट्रिक बसें चल रही हैं। लोगों की सहूलियत को ध्यान में रखते हुए महानगर के रामगढ़ताल एवं नौसड़ से सहजनवां तक इलेक्ट्रिक बसें चलाने का निर्णय लिया गया है। फरवरी में पांच नई बसें आ जाएंगी। इसके बाद नई रूट पर बसों का संचालन शुरू करा दिया जाएगा।

गोला, बड़हलगंज और कौड़ीराम से प्रयागराज के लिए रवाना हुई बसें

गोरखपुर परिक्षेत्र से प्रयागराज के लिए स्पेशल बसों का संचालन शुरू हो गया है। पहले दिन गोरखपुर के अलावा गोला, बड़हलगंज और कौड़ीराम से दर्जनों बसें रवाना हुई। देर रात तक बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौनी अमावस्या का स्नान करने के लिए संगम के लिए रवाना हो गए। गोरखपुर परिक्षेत्र से छह फरवरी तक कुल 300 बसें चलाई जानी हैं।

रोडवेज के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक एके मिश्रा के अनुसार बसों के संचालन में किसी तरह की दिक्कत न आए, इसके लिए जगह-जगह कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। मरम्मत के लिए आजमगढ़, दोहरीघाट एवं कौड़ीराम मोबाइल वाहन भेजे गए हैं। गोरखपुर बस डिपो से 60, राप्तीनगर डिपो से 50, देवरिया डिपो से 40, बस्ती डिपो से 60, सिद्धार्थनगर डिपो से 27, महाराजगंज डिपो से 25, सोनौली से 23 और पडरौना डिपो से 15 बसें चलाई जानी हैं। आवश्यकता पड़ने पर और बसें चलाई जाएंगी।

रास्ता बदलकर चलेगी गोरखपुर-यशवंतपुर एक्सप्रेस

दक्षिण मध्य रेलवे के मौला अली स्टेशन पर नान इंटरलाकिंग कार्य चल रहा है। इसके चलते कुछ ट्रेनों का संचालन प्रभावित रहेगा। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार 12591 गोरखपुर-यशवंतपुर एक्सप्रेस मौला अली सी केबिन-मौला अली गेट-मलकाज गिरी-सिकन्दराबाद के रास्ते चलाई जाएगी।

Related Articles

Back to top button