दक्षिण अफ्रीका के स्टार बल्लेबाज डेविड मिलर को टी20 वर्ल्ड कप में अपने टीम पर है भरोसा, कहा

दक्षिण अफ्रीका के स्टार बल्लेबाज डेविड मिलर को पूरा भरोसा है कि भारत के खिलाफ सीरीज में हार आने वाले टी20 वर्ल्ड कप से पहले उनकी टीम को कमजोर नहीं बनाएगी। उन्होंने पिछले सीजन में ऑस्ट्रेलिया की खिताबी जीत का हवाला दिया जो इस मेगा टूर्नामेंट से पहले लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के लिए जूझ रहा था। दक्षिण अफ्रीका के टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज बुरी तरह से जूझ रहे हैं, जबकि रविवार को दूसरे टी20 में उनके गेंदबाज भी लय में नहीं दिखे जिससे भारत ने यहां 16 रन की जीत के साथ सीरीज में 2-0 की विजयी बढ़त बना ली।

मिलर ने कहा कि हार से उन्हें अधिक नुकसान नहीं होगा क्योंकि ऑस्ट्रेलिया ने भी 2021 में काफी संघर्ष किया था लेकिन आखिरकार वे वर्ल्ड चैंपियन बन गए। ऑस्ट्रेलिया की टीम टी20 फॉर्मेट में लगातार पांच सरीज गंवाने के बाद वर्ल्ड कप में उतरी थी। मिलर ने मैच के बाद प्रेस कॉन्फ्रेन्स में कहा, ‘पहले भी कई उदाहरण हैं जिनमें से एक ऑस्ट्रेलिया का है कि वे वर्ल्ड कप से पहले बहुत अच्छा नहीं कर रहे थे और फिर वे वर्ल्ड चैंपियन बनने में सफल रहे। इसलिए मुझे नहीं लगता कि इसके बारे में अधिक चिंता करने की जरूरत है।’

‘हमने एक बहुत अच्छी टीम बनाई है’

उन्होंने कहा, ‘हमने पिछले डेढ़ साल में एक बहुत अच्छी टीम बनाई है। हम एकजुट होकर काफी अच्छा प्रदर्शन करते हैं। हमारे बीच अच्छी साझेदारियां हैं, हमने पिछले साल बहुत सारी सीरीज जीतीं।’ इस आक्रामक बल्लेबाज ने कहा, ‘सीरीज हारना बेशक निराशाजनक था लेकिन अतीत में हमने वास्तव में अच्छी प्रतिस्पर्धा की है लेकिन फिर भी सीरीज हारना निराशाजनक है।’

तेम्बा बावुमा की अगुवाई वाली टीम को 238 रन का कड़ा लक्ष्य दिया गया था लेकिन कप्तान लगातार दूसरे मैच में खाता खोलने में नाकाम रहे जबकि रिली रोसू भी शून्य पर आउट हो गए। हालांकि मिलर ने 47 गेंद में नाबाद 106 रन की लाजवाब पारी खेली और क्विंटन डिकॉक (48 गेंद में नाबाद 69 रन) के साथ चौथे विकेट के लिए 174 रन की अटूट साझेदारी की जिससे मुकाबला करीबी रहा। मिलर ने कहा, ‘पिछले मैच में हमने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की। इस मैच में भी हमारी शुरुआत अच्छी नहीं रही लेकिन हम काफी अच्छी साझेदारी करने में सफल रहे और अंत में मुकाबला काफी प्रतिस्पर्धी रहा।’

मैच में 400 से ज्यादा रन बने’

 मिलर ने हालांकि अपने गेंदबाजों के प्रति नरम रुख अपनाया। उन्होंने कहा, ‘मैच में 400 से अधिक रन बने, मैं गेंदबाजों के प्रति बहुत कठोर नहीं होना चाहता लेकिन मुझे लगता है कि कई बार हम योजना को सही तरह से लागू नहीं कर पाए।’ मिलर ने कहा, ‘पिछले मैच में उन्होंने वास्तव में अच्च्छा प्रदर्शन किया। वर्ल्ड कप से पहले कुछ डिपार्टमेंट्स में हम अब भी सुधार कर सकते हैं, हमारे पास अब भी समय है।’

Related Articles

Back to top button