पंजाब: धुंध में हुए हादसों के बाद चौकस हुआ ट्रैफिक विभाग

धुंध के शुरुआती दिनों में ही राज्य के विभिन्न हिस्सों में कई सड़क हादसे होने के बाद लुधियाना का ट्रैफिक विभाग भी चौकस हो गया है। ए.डी.जी.पी. ट्रैफिक द्वारा भेजी गई है हिदायतों को सभी थाना प्रभारी व ट्रैफिक स्टाफ को जारी कर दी गई है। बता दें कि धुंध व कोहरे में ड्राइविंग खतरे से खाली नही। बीते वर्ष राज्य में धुंध के कारण हुए हादसों में 712 लोगों की जान चली गई, जबकि 512 लोग जख्मी भी हुए। इस विषय को लेकर सभी सरकारी विभाग गंभीर स्थिति में है व सड़क हादसों पर रोक लगाने के लिए प्रयास शुरू कर दिए गए है।

थाना प्रभारी व ट्रैफिक स्टाफ को जारी हिदायतें
नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे पर किसी भी वाहन को अनधिकृत तौर पर पार्क न होने दिया जाए।
कमर्शियल वाहनों व ट्रैक्टर ट्रालियों के पीछे रिफ्लेक्टर व रेडियम टेप लगवाई जाए।
कमर्शियल हैवी वाहनों के पीछे अंडर रन बार लगवाई जाए।
सरिया व स्टील की रॉड से लदे ट्रक व ट्रालों पर रोक लगाई जाए।
ओवरसाइज के कंटेनर व ट्राले जिनके पास परमिट नहीं है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।
ट्रांसपोर्ट यूनियनों व आम लोगों को धुंध के सीजन में रिफ्लेक्टर व रिफ्लेक्टिव टेप लगाने से संबंधी जागरूक किया जाए।
ड्रंकन ड्राइविंग व ओवर स्पीड वाहनों के अधिक से अधिक चालान किए जाएं।

Related Articles

Back to top button