Google Maps Scam: गूगल मैप्स पर चल रहा नया स्कैम

स्कैमर्स रोज लोगों को ठगने के नए-नए तरीके लाते रहते हैं। इसमें से सबसे कॉमस वॉट्सऐप के जरिए मैसेज भेज कर स्कैम करना है। कुछ समय पहले यूट्यूब पर लाइक करके पैसे कमाने वाला एक स्कैम सामने आया था, जिसमें बहुत से लोगों ने लाखों रुपये गंवा दिए। ऐसा ही कुछ अब Google Maps में हो रहा है।

हाल ही में एक घटना सामने आई है, जिसमें ग्रेटर नोएडा के निवासी संदीप कुमार (Chi-1 एक वर्क-फ्रॉम-होम स्कैम का शिकार हो गए हैं, जिसमें गूगल मैप्स पर होटलों की रेटिंग का काम दिया गया था। समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार कुमार ने जनवरी 2024 में 20.54 लाख रुपये गंवा दिए।

क्या है नया स्कैम?
रिपोर्ट में पता चला है कि कुमार को एक वॉट्सऐप मैसेज मिला, जिसमें वर्क फ्रॉम होम का विकल्प दिया गया है। इसके लिए गूगल मैप्स पर होटलों की रेटिंग करना था।
इस प्रस्ताव से आकर्षित होकर कुमार 100 सदस्यों वाले टेलीग्राम समूह में शामिल हो गए, जहां उन्होंने रेटिंग कार्य पूरे करना शुरू कर दिया। हालांकि, जल्द ही इस काम में पैसे निवेश करने का कहा गया।
कुमार ने शुरू में 50,000 रुपये का निवेश किया, लेकिन पैसे निकालने में असमर्थ रहे। जब उन्होंने अपना पैसा वापस लेने का प्रयास किया, तो उन्हें टैक्स के रूप में एक्स्ट्रा 5 लाख रुपये का भुगतान करने का निर्देश दिया गया। जिसमें फंसकर उन्होंने कुल 20,54,464 रुपये का निवेश किया।
कुमार को तब अहसास हुआ कि उनके साथ धोखाधड़ी हुई है, जब उनसे उनके खातों को ‘डीफ्रीज’ करने के लिए फिर से ज़्यादा पैसे मांगे गए ।
इसके बाद उन्होंने नोएडा सेक्टर 36 में साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में एक एफआईआर दर्ज कराई है। एफआईआर में धोखाधड़ी, आपराधिक धमकी और आईटी अधिनियम के उल्लंघन के आरोप शामिल हैं।

कैसे रहें सुरक्षित?
रियल टाइम सिक्योरिटी के लिए CERT-In द्वारा ‘फ्रॉड अलर्ट’ या Google के ‘एंटी-फिशिंग ऐप’ जैसे सुरक्षा ऐप इंस्टॉल करें।
ऑनलाइन अपना पर्सनल किसी से भी शेयर ना करें,चाहे वह कितना भी दावा करें।
व्यक्तिगत डेटा मांगने वाले ईमेल या संदेशों से बचे।
अपने फोन के सॉफ्टवेयर को लेटेस्ट सिक्योरिटी पैच के साथ अपडेट रखें।
पेमेंट करते समय अधिक सावधान रहें और फ्री गिफ्ट जैसे झांसे में फसने से बचे ।
इन सावधानियों का पालन करके आप ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार होने के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकते हैं।

Related Articles

Back to top button