बिहार के प्रमुख सत्‍ताधारी दल जदयू ने इस बार PM मोदी के सामने उठाया ये नया मसला…

Bihar Politics: बिहार के प्रमुख सत्‍ताधारी दल और मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) की पार्टी जदयू ने इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के सामने नया मसला उठाया है। जदयू ने इस बार विशेष राज्‍य का दर्जा नहीं, बल्कि कुछ और मांगा है, जिसका वादा प्रधानमंत्री पहले ही कर चुके हैं। बिहार जदयू (Bihar JDU) ने पटना विश्वविद्यालय (Patna University) को सेंटर आफ एक्सीलेंस (Center of Excellence) में शामिल करने का वादा पूरा करने की मांग प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से की है। जदयू ने कहा कि प्रधानमंत्री ने यह वादा खुद ही नीतीश कुमार के सामने एक कार्यक्रम में किया था।

केंद्रीय बजट को सराहा

पार्टी के प्रवक्ता रणवीर नंदन ने कहा कि आम बजट  सकारात्मक और हर वर्ग की चिंता करने वाला है। शिक्षा के क्षेत्र में कई बड़े प्रयास दिख रहे हैं जो सराहनीय है। पांच सेंटर आफ एक्सीलेंस की स्थापना की घोषणा की गई है। प्रधानमंत्री से आग्रह है कि केंद्र सरकार वे वादा भी पूरा करे जिसे खुद पीएम ने घोषित किया था।

शताब्‍दी समारोह में की थी घोषणा

उन्होंने कहा कि पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने पटना विवि को सेंटर आफ एक्सीलेंस बनाने की घोषणा की थी। इस वादा को पूरा करना बिहार और देश के हित में है। खुद सीएम नीतीश कुमार ने भी प्रधानमंत्री के सामने पटना विवि के शताब्दी समारोह में यह मांग उठाई थी। तब पीएम मोदी ने कहा था कि इसे सेंटर आफ एक्सीलेंस बनाया जाएगा।

नालंदा सैनिक स्कूल के लिए तीन करोड़ जारी

शिक्षा विभाग ने सैनिक स्कूल, नालंदा के छात्र-छात्राओं के छात्रवृत्ति, पोशाक और विद्यालय के स्थापना मद में तीन करोड़ 9 लाख 50 हजार 980 रुपये आवंटित किया है। इसमें एक करोड़ रुपये तत्काल जारी कर दिया गया है। शिक्षा विभाग के उप सचिव अरशद फिरोज ने इसकी जानकारी दी। उनके मुताबिक राज्य अपीलीय प्राधिकार के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के वेतन और अन्य मद में एक करोड़ 50 हजार रुपये की मंजूरी दी गई है।

Related Articles

Back to top button