राज्‍य में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के कारण बिहार विधानसभा परिसर को 16 जनवरी तक किया बंद

राज्‍य में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के कारण बिहार विधानसभा परिसर को बंद कर दिया गया है। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने कर्मचारियों एवं पदाधिकारियों को 16 जनवरी तक आने से मना कर दिया है। शुक्रवार को कोरोना टेस्ट में 20 लोगों को संक्रमित पाया गया। इसके बाद ही यह फैसला लिया गया।वहीं जदयू के बाद अब राजद कार्यालय का गेट भी बंद हो गया है। राजद के प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह ने यह आदेश जारी किया है। 

स्‍वास्‍थ्‍य सुरक्षा हमारी नैतिक जिम्‍मेदारी 

विधानसभा अध्‍यक्ष विजय सिन्हा ने बताया कि सभा सचिवालय के कर्मियों में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए पूरी तरह बंद करना जरूरी था। पहले से निर्धारित विधानसभा समितियों की सभी बैठकों को भी स्थगित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण हमने पहले भी कुछ कर्मियों और उनके स्वजनों को खो दिया है। महामारी की स्थिति में कर्मचारियों की स्वास्थ्य सुरक्षा हमारी नैतिक जिम्मेदारी है। सभा परिसर में पूर्व में बनाए गए कंट्रोल रूम को फिर से चालू करने का आदेश दिया, ताकि वर्तमान एवं पूर्व विधायकों, कर्मियों एवं उनके स्वजनों को कोरोना संबंधी समस्या होने पर स्वास्थ्य विभाग से समन्वय स्थापित किया जा सके।

सैनिटाइजेशन कराने का दिया आदेश 

स्पीकर ने बंद के दौरान सभा सचिवालय को सेनेटाइज कराने, कर्मियों को मुख्यालय में रहने और मोबाइल खुला रखने का आदेश दिया ताकि जरूरत पड़ने पर कार्यों का निष्पादन किया जा सके। बंद के दौरान सभा सचिवालय के सुरक्षाकर्मी प्रत्येक दिन कार्यालय आएंगे। उन्होंने आम नागरिकों से भी कोरोना को हल्के में नहीं लेने, मास्क लगाने, शारीरिक दूरी बनाने एवं कोरोना प्रोटोकाल का पालन करने की अपील की है। 

राजद कार्यालय में लटका ताला 

कोरोना के बढते प्रकोप को देखते हुए राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश कार्यालय को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। प्रदेश  प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के निर्देश पर बंद किया गया है।

Related Articles

Back to top button