भारतीय नए आयुर्वेद डॉक्टरों का पंजीकरण और नवीनीकरण का ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया

अभी तक परिषद में पंजीकरण की प्रक्रिया ऑफलाइन की जाती थी। फर्जी दस्तावेज पर डॉक्टर के पंजीकरण का मामला सामने पर परिषद ने रजिस्ट्रेशन के लिए पोर्टल तैयार किया है। परिषद को नए पंजीकरण और नवीनीकरण के लिए रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर आवेदन मिलने शुरू गए हैं।

भारतीय चिकित्सा परिषद उत्तराखंड ने नए बीएएमएस डॉक्टर, आयुष नर्सिंग, पंचकर्म सहायक, फार्मासिस्ट के पंजीकरण और नवीनीकरण की ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू कर दी है। परिषद का मानना है कि इससे फर्जी दस्तावेज के आधार पर पंजीकरण करने पर रोक लगेगी।

भारतीय चिकित्सा परिषद बीएएमएस डॉक्टर, प्राकृतिक चिकित्सा सहायक, आयुष नर्सिंग, पंचकर्म सहायक, फार्मासिस्ट का पंजीकरण किया जाता है। अभी तक परिषद में पंजीकरण की प्रक्रिया ऑफलाइन की जाती थी। फर्जी दस्तावेज पर डॉक्टर के पंजीकरण का मामला सामने पर परिषद ने रजिस्ट्रेशन के लिए पोर्टल तैयार किया है। परिषद को नए पंजीकरण और नवीनीकरण के लिए रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर आवेदन मिलने शुरू गए हैं।

परिषद की रजिस्ट्रार नर्वदा गुसाईं ने बताया कि पहली बार भारतीय चिकित्सा परिषद ने डिजिटल के माध्यम से काम करना शुरू कर दिया है। नए डॉक्टरों, नर्सिंग, पंचकर्म सहायक और फार्मासिस्टों का पंजीकरण व नवीनीकरण ऑनलाइन माध्यम से होगा। पोर्टल के माध्यम से दस्तावेजों का सत्यापन संबंधित संस्थानों से कराया जाएगा। रजिस्ट्रेशन पोर्टल से परिषद के कामकाज में पारदर्शिता आएगी।

Related Articles

Back to top button