हरियाणा: 17 साल बाद पीजीटी संस्कृत अध्यापकों का हुआ प्रमोशन

यमुनानगर : हरियाणा में पिछले 17 वर्षों से पदोन्नति का इंतजार कर रहे पीजीटी संस्कृत अध्यापकों के लिए राहत की खबर है। शिक्षा विभाग ने 395 अध्यापकों की पदोन्नति की लिस्ट जारी कर दी है। जो वर्ष 2007 से पदोन्नति का इंतजार कर रहे थे। सरकार के इस फैसले से एक तरफ जहां प्रदेश में संस्कृत को बढ़ावा मिलेगा। प्रदेश के 395 पीजीटी संस्कृत अध्यापकों की पदोन्नति हुई।

कंवर पाल की कलम से हुआ ऐतिहासिक निर्णय
वहीं हरियाणा राज्य संस्कृत अध्यापक संघ के पदाधिकारियों ने स्कूल शिक्षा मंत्री कंवरपाल का आभार जताया। अध्यापक संघ के पदाधिकारी बोले कि 17 साल के बनवास के बाद स्कूल शिक्षा मंत्री कंवर पाल की कलम से ऐतिहासिक निर्णय हुआ। स्कूल शिक्षा मंत्री बोले कि संस्कृत भाषा को और अधिक बढ़ावा मिलना चाहिए, जिसके लिए सरकार प्रयासरत है। संस्कृत पूरे तरीके से एक वैज्ञानिक भाषा है, पूरी दुनिया ने इस बात को स्वीकार किया है। आने वाले समय में संस्कृत का बहुत उज्जवल भविष्य है और यह दुनिया की भाषा बनेगी।

Related Articles

Back to top button